ज्ञान वाटिका

GYAAN VATIKA

ज्ञान की प्रयोगशाला

कैसे चुने अपनी ड्रीम इलेक्ट्रिक कार: Choose Right Electric Car Complete Guide

इलेक्ट्रिक कार की बढ़ती लोकप्रियता से तो आप परिचित हैं। एक ड्रीम इलेक्ट्रिक कार को अपने घर का सदस्य भी बनान चाहते हैं। लेकिन मन में दुविधा है कि कौन सी इलेक्ट्रिक कार आपके लिए बेहतर होगी।  अगर आप अपने लिए इलेक्ट्रिक कार का चुनाव नहीं कर पा रहे हैं तो चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है। ये आर्टिकल एक मार्गदर्शक की भाँती पूरी सहायता करेगा ताकि आप अपने लिए एक सही इलेक्ट्रिक कार का चुनाव कर सकें। एक कार को खरींदे से पहले उसकी रेंज, चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर, फीचर्स, बजट इत्यादि पहलुओं पर ध्यान देना आवश्यक होता है। आगे इन सभी बिंदुओं पर विस्तारपूर्वक चर्चा की जायेगी। 

 

choose right electric car
choose right electric car

 ड्राइविंग आवश्यकता के आधार पर  कार का चुनाव 

 

कार की  ड्राइविंग सुकून भरी होनी चाहिए। आरामदायक सफर के लिए एक बेहतरीन इलेक्ट्रिक कार का चुनाव मानसिक संतुष्टि देता है। आगे दिए गए टिप्स आपको अपनी पसंद की इलेक्ट्रिक कार के चुनाव में सहायता करेंगे। 

 

1.दैनिक यात्रा की दूरी:

 

एक सामान्य दिन में आपके द्वारा तय की गई इलेक्ट्रिक कार की औसत दूरी का आकलन करें। फिर देखें कि इलेक्ट्रिक कार में ऐसा कौन सा मॉडल है जो प्रतिदिन आपके द्वारा तय की गयी दूरी की आवश्यकता को पूरा करता है। ध्यान रखें कि इलेक्ट्रिक कारों को एक बार रिचार्ज करने के पश्चात तय की गयी दूरी के हिसाब से अलग अलग रेंज आती है। आपके लिए  ऐसी कार को चुनना महत्वपूर्ण है  जो बार बार चार्जिंग के बिना दैनिक आवश्यकता की पूर्ति करती  हो ।

 

2.लंबी यात्राएं:

 

इस बात को ध्यान में रखें की आप महीने में  कितनी बार लंबी दूरी की यात्रा करते हैं।  जिस इलेक्ट्रिक कार को आप खरीदना चाहते हैं क्या उसमें लम्बी दूरी को तय करने की क्षमता है कि नहीं।  साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि आपकी  यात्रा  के मार्ग पर किस प्रकार की चार्जिंग अवसंरचना स्थापित है। 

 

3.चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर:

 

अपने आवासीय क्षेत्र के आस पास स्थित चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर की सुविधा का आकलन करें।  नियमित और तीव्र चार्ज करने वाले सार्वजनिक चार्जिंग स्टेशन की निकटता और उपलब्धता पर ध्यान दें।  यदि आपके पास विश्वसनीय और सुविधाजनक रूप से चार्जिंग पॉइंट तक पहुंच है, तो यह आपके इलेक्ट्रिक कार के मालिक बनने के उद्देश्य के लिए महत्वपूर्ण होगा ।  

 

4.पार्किंग और घर पर चार्जिंग:

 

अपनी पार्किंग की स्थिति पर विचार करें। निर्धारित करें कि क्या आपके पास ऑफ-स्ट्रीट पार्किंग तक पहुंच है जहां आप होम चार्जिंग स्टेशन स्थापित कर सकते हैं। घर पर चार्ज करना आपके लिए सुविधाजनक होगा। आप अपनी इलेक्ट्रिक कार को पूरी रात चार्जर पॉइंट पर लगाकर रिचार्ज कर सकते हैं।  

 

5.जीवनशैली की आवश्यकता के अनुसार :

 

आपको अपनी जीवन शैली के अनुरूप कार का चुनाव करना चाहिए। यदि आप माल की ढुलाई  करनी है या फिर आपका परिवार बड़ा है तो इसी के अनुरूप भण्डारण क्षमता और बैठने के विकल्पों को ध्यान में रखते हुए इलेक्ट्रिक कार का चुनाव कर सकते हैं।

 

6.भविष्य की आवश्यकताएं:

 

भविष्य की आवश्यकताओं को भी ध्यान में रखें।  जैसे हो सकता है कि आपके परिवार की संरचना में बदलाव हो या निकट भविष्य में अपने ड्राइविंग पैटर्न या जरूरतों में कोई संभावित बदलाव करना चाहते हों। आपकी परिस्थितियाँ बदल सकती हैं, जैसे कि नौकरी में ट्रांसफर या आपके परिवार के आकार में परिवर्तन, तो यह  सुनिश्चित करें कि आपके द्वारा चुनी गई इलेक्ट्रिक कार इन परिवर्तनों के अनुकूल हो।  

 

इलेक्ट्रिक कार चुनाव के लिए बजट का निर्धारण

 

इलेक्ट्रिक कार के लिए अपना बजट निर्धारित करते समय निम्न बातों पर विचार कर लेना आपके निर्णय को ज्यादा बेहतर बनाएगा । 

 

1.वाहन की कीमत:

 

बाजार में उपलब्ध इलेक्ट्रिक कार मॉडल की कीमतों को लेकर रिसर्च कर लें । ध्यान रखें कि ब्रांड, मॉडल, बैटरी क्षमता और सुविधाओं  के आधार पर इलेक्ट्रिक कारों की लागत में काफी अंतर हो सकता है।  इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए अपने बजट के अनुरूप इलेक्ट्रिक कार का चुनाव करें।  

 

2.सरकारी प्रोत्साहन:

 

इलेक्ट्रिक वाहन खरीद के लिए सरकार द्वारा दिए जा रहे प्रोत्साहन, टैक्स क्रेडिट, अनुदान के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करें। सरकार द्वारा दिया जा रहा अनुदान प्रदेश या क्षेत्रीय स्तर पर अलग अलग हो सकते हैं।  सरकारी प्रोत्साहन कार खरीदने में आने वाली लागत कम  कर सकता है। सरकारी प्रोत्साहन से सम्बंधित पात्रता की जानकारी लें तथा योजना का अधिकतम लाभ लेने का प्रयास करें।  

 

3.भविष्य की बचत सम्बन्धी संभावनाओं पर विचार :

 

इलेक्ट्रिक कार खरीदते समय भविष्य की बचत संभावनाओं पर विचार अवश्य करें। पारम्परिक कारों की तुलना में इलेक्ट्रिक कारों की प्राम्भिक कीमत अधिक हो सकती है लेकिन आगे चलकर इनकी परिचालन लागत कम ही आती है।  इलेक्ट्रिक कारों के मेंटनेंस पर कम खर्च करना पड़ता है। चार्ज करने के लिए बिजली पर आने वाली लागत पेट्रोलियम को ईंधन के रूप में प्रयोग में लाने वाली कारों की तुलना में कम होती है।  

 

4.कार के लिए लोन :

 

इलेक्ट्रिक कार खरीद के लिए लोन के विकल्पों की जानकारी प्राप्त करना आवश्यक है। विशेष रूप से इलेक्ट्रिक वाहनों के लोन के लिए विशेष प्रस्ताव, काम ब्याज दर, लोन की अनुकूल शर्तें वाले वित्तीय संस्थानों एवं डीलरशिप पर ध्यान दें। अपने बजट का आकलन करें और  ये तय करें की आप मासिक कितना भुगतान कर सकते हैं। 

 

5.होम चार्जिंग सुविधा के सम्बन्ध में :

 

यदि कार को चार्ज करने के लिए होम चार्जिंग स्टेशन की स्थापना पर विचार कर रहे हैं तो इसको स्थापित करने तथा प्रयोग में लायी जाने वाली बिजली की लागत पर विचार करें। इस बात को ध्यान में रखें की आपने कार को जो बजट बनाया है उसका एक भाग स्थापन सुविधाओं पर खर्च करना पड़ेगा। 

 

6.बीमा दरें:

 

इलेक्ट्रिक कारों के लिए बीमा दरों पर शोध करें।  ‘अलग अलग बीमा कंपनियों के प्रीमियम इलेक्ट्रिक कार के मॉडल एवं आपके ड्राइविंग इतिहास सहित कई कारकों के आधार पर भिन्न हो सकते हैं, इलेक्ट्रिक कार के लिए बजट बनाते समय बीमा लागतों पर विचार करना महत्वपूर्ण है।

 

रेंज और चार्जिंग विकल्पों का मूल्यांकन 

 

कार की रेंज और बैटरी की क्षमता इलेक्ट्रिक कार महत्वपूर्ण भाग है।  इलेक्ट्रिक कार के चुनाव में इन पहलुओं पर विशेष ध्यान देना चाहिए। 

 

1.रेंज:

 

सबसे पहले इस बात का निर्धारण करें की आपको को प्रतिदिन कितनी दूरी तय करनी है।  इसके लिए आप ऐसी इलेक्ट्रिक कार का चुनाव करें जो बार बार रिचार्ज किये बिना दैनिक आवश्यकताओं को पूरा कर सके। बाजार में कार के अलग अलग मॉडल और रेंज उपलब्ध हैं।  यदि आप अक्सर लम्बी दूरी की यात्रा करते हैं तब अधिक दूरी तय करने में सक्षम कार को खरीदें। फ़ास्ट चार्जिंग क्षमता वाली कार भी आपके लिए उपयोगी होगी।  

 

2.चार्जिंग गति:

 

इलेक्ट्रिक कारों के लिए चार्जिंग की तीन श्रेणियां होती हैं ।  लेवल 1 (120V), लेवल 2 (240V), और DC फास्ट चार्जिंग। लेवल 1 की चर्जिंग स्पीड धीमी होती है इसके लिए घर पर ही चार्जिंग संसाधनों को प्रयोग में लाया जाता है।  लेवल 2 में तेज गति से चार्ज करने के लिए एक चार्जिंग स्टेशन की आवश्यकता होती है। लेवल 3 डीसी फ़ास्ट चार्जिंग सबसे तेज चार्जिंग का विकल्प है।  यह सुविधा आमतौर पर सार्वजानिक पावर स्टेशन पर उपलब्ध होती है। इस बात का ध्यान रखें के क्या फ़ास्ट चार्जिंग विकल्प आपके कार के मॉडल के अनुकूल हैं या नहीं।  जब लम्बी  दूरी तय करनीहो  और समय काम हो तब फ़ास्ट चार्जिंग क्षमता आपके लिए बहुत अनुकूल होती है।  

 

3.चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर:

 

आपने आसपास के चार्जिंग सुविधाओं को ध्यान में रखना आवश्यक है।  आपके घर और कार्यस्थल से चार्जिंग स्टेशन या अन्य चार्जिंग सुविधाओं की दूरी की जानकारी होना चाहिए। अगर आप लम्बी यात्रा करते हैं तब यात्रा के  मार्ग पर चार्जिंग की कौन सी सुविधाएं हैं इसके लिए एक प्रॉपर मैप बनाएं। यदि होम चार्जिंग सुविधा का प्रयोग करना है तो इस बात का ध्यान में रखना होगा की पार्किंग घर के अंदर है या बाहर। क्योंकि कार को चार्ज रखने के लिए पूरी रात चार्जिंग में लगाना पड़ेगा। 

 

4.चर्जिंग नेटवर्क या एप्स  सुविधा का लाभ लेना:

 

चार्जिंग नेटवर्क या एप्स  का लाभ लें।   इसके द्वारा चार्जिंग स्टेशन की लोकेशन, उपलब्धता और कीमत  आदि का पता चलता है। कुछ चार्जिंग नेटवर्क सदस्यता की  सुविधा प्रदान करते हैं, जो ग्राहकों को चार्जिंग नेटवर्क तो पहुँच प्रदान करता है ।   यह लम्बी यात्रा तथा व्यापक चार्जिंग नेटवर्क तक पहुँच के लिए लाभदायक होता है।  

 

5.बैटरी प्रबंधन:

 

बैटरी पर वाह्य कारको के प्रभाव को समझें।  तापमान, ड्राइविंग के लिए परिस्थितियां तथा अन्य इलेक्ट्रिक सामान कार की रेंज की प्रभावित करते हैं।  ऐसे इलेक्ट्रिक कार का चुनाव करें जो  बैटरी की क्षमता को विभिन्न कारकों के अनुकूल बनाता हो।   जैसे रिजेनेरटिव ब्रेकिंग सिस्टम ,ईको स्मार्ट बैटरी मैनेजमेंट सिस्टम इत्यादि।  

 

इलेक्ट्रिक कार के फीचर और मॉडल पर रिसर्च

 

इलेक्ट्रिक कार के मॉडल और फीचर पर रिसर्च करते समय अपनी प्राथमिकताओं एवं आवश्यकता के अनुरूप मॉडल खोजने के लिए निम्न चरणों पर विचार करें।  

 

1 . अपनी प्राथमिकता तय करें:

 

इलेक्ट्रिक कार के  फीचर और क्वालिटी के लिए एक सूची बनायें जैसा आप अपनी पसंद की कार के मॉडल में देखना चाहते हों।  कार की रेंज, चार्जिंग स्पीड, परफॉरमेंस, इंटीरियर स्पेस, टेक्नोलॉजी, कनेक्टिविटी, सेफ्टी फीचर और ड्राइविंग एक्सपीरियंस जैसे पहलुओं  पर विचार करें।  इन सभी पहलू पर अपनी आवश्यकता और प्राथमिकता के आधार पर महत्व दें।   

 

2 . विभिन्न कार निर्माता के मॉडल पर रिसर्च करें :

 

इलेक्ट्रिक कार बनाने वाले विभिन्न निर्माता के मॉडल पर रिसर्च करें। टाटा, हुंडई,एमजी ,महिंद्रा,आदि जाने पहचाने इलेक्ट्रिक कार निर्माता हैं।  इनकी ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर इनके ऑफर की जानकारी लें साथ ही संबंधित कार  मॉडल के लिए और अधिक जानकारी प्राप्त करें।

3 .अलग अलग मॉडल की समीक्षा:

 

विभिन्न  कार निर्माताओं द्वारा उपलब्ध इलेक्ट्रिक कार मॉडल का परीक्षण करें।  कार के प्रत्येक मॉडल की विशेषता, फीचर और उनकी कीमतों पर ध्यान दें।  कार की रेंज, बैटरी की क्षमता, चार्जिंग क्षमता, प्रदर्शन इत्यादि के तुलना के आधार पर यह तय करें कि  कौन सा मॉडल आपकी आवश्यकता के अनुरूप सही है। 

 

4 . एक्सपर्ट के रिव्यु को पढ़ें:

 

 किसी प्रतिष्ठित ऑटोमेटिव पब्लिकेशन या वेबसाइट से एक्सपर्ट रिव्यु अथवा इलेक्ट्रिक कार के मॉडल की तुलना के लिए परामर्श लें।  ये रिव्यु कार के अलग अलग मॉडल के मजबूत पक्ष और कमजोर पक्ष को समझने में आपकी सहायता करेगा।  इसके अलावा कार के मॉडल के फीचर्स और परफॉर्मेंस के सम्बन्ध विस्तृत जानकारी प्राप्त हो जायेगी।  प्रोफेशनल और यूजर दोनों के रिव्यु इलेक्ट्रिक कार को लेकर आपकी समझ को व्यापक बनाएंगे। 

 

5 . सेफ्टी रेटिंग को ध्यान में रखें: 

 

इलेक्ट्रिक कार मॉडल की सुरक्षा रेटिंग की समीक्षा करें। इस बात को ध्यान में रखें की आपकी कार हाई सेफ्टी रेटिंग और एडवांस्ड फीचर की हो। न्यू  कार असेसमेंट प्रोग्राम (NCAP) कार की सेफ्टी रेटिंग जारी करता है।  

 

6 . चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर पर ध्यान: 

 

अपने क्षेत्र में उपलब्ध चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर के अनुरूप कार मॉडल का चुनाव करें। कुछ इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनियों जैसे टाटा मोटर्स इत्यादि ने अपने चार्जिंग नेटवर्क विकसित किये हुए हैं। पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर के चार्जिंग स्टेशन की उपलब्धता के आधार पर भी कार मॉडल का चुनाव करें। 

 

7 . बैटरी की क्षमता:

 

कार के मॉडल में प्रयोग की जाने वाली बैटरी टेक्नोलॉजी के विषय में जानकारी लें। बैटरी की क्षमता, चार्जिंग टाइम और बैटरी की लाइफ से संबंधित पहलू पर ध्यान दें। बैटरी की वारंटी को भी ध्यान में रखें। कार में प्रयुक्त उन्नत बैटरी टेक्नोलॉजी और उसकी अधिक बैटरी लाइफ एक कार ओनर को लम्बी अवधि तक कार से संबंधित किसी भी परेशानी से मुक्त रखती है।   

 

8.अतिरिक्त सुविधाओं का आकलन:

 

इलेक्ट्रिक कार कंपनियों द्वारा अपने  मॉडल पर  पेश की जाने वाली किसी भी अतिरिक्त सुविधाओं और तकनीकों पर ध्यान दें। इसमें एडवांस ड्राइवर असिस्टेंट, इंफोटेनमेंट सिस्टम, स्मार्टफोन इंटीग्रेशन, ओवर-द-एयर सॉफ्टवेयर अपडेट और इनोवेटिव  डिजाइन के तत्व सम्मिलित हो सकते हैं। कार को खरीदने के समय देखें की ये अतिरिक्त सुविधाएं कैसे आपके ड्राइविंग एक्सपीरियंस को बेहतर बना सकती हैं।    

 

टेस्ट ड्राइव का अनुभव 

 

किसी भी इलेक्ट्रिक कार के ड्राइविंग अनुभव को जानने  का सही तरीका है टेस्ट ड्राइव। टेस्ट ड्राइव महत्वपूर्ण क्यों है?  इसके सम्बन्ध में  कुछ टिप्स निम्नलिखित हैं।  

 

1 . डीलर से टेस्ट ड्राइव शेड्यूल करें:

 

ऐसे डीलर का चुनाव करें जो आपकी रूचि के अनुसार कार के मॉडल पेश करता हो।  टेस्ट ड्राइव के लिए डीलर से दिन निर्धारित करें। टेस्ट ड्राइव के बेहतर अनुभव के लिए हो सके तो उपलब्ध अन्य मॉडल को भी टेस्ट ड्राइव में सम्मिलित करने का प्रयास करें।  

 

2 . टेस्ट ड्राइव की तैयारी: 

 

टेस्ट ड्राइव पर जाने से पहले ऐसे सभी प्रश्नों की सूची तैयार करें जिनको टेस्ट ड्राइव के दौरान आपको जानना है। जैसे कार की हैंडलिंग, आवाज़, कम्फर्ट, यूजर इंटरफ़ेस इत्यादि।  टेस्ट ड्राइव के दौरान मन में उठने वाले सवाल को अपने स्मार्ट फोन या नोट पैड  में लिख लें, ताकि समस्या समाधान में आसानी हो।  

 

3 . ड्राइविंग के अनुभव का आकलन करें: 

 

टेस्ट ड्राइव के दौरान अपना ध्यान ड्राइविंग अनुभव पर केंद्रित करें। कार के त्वरण, ब्रेकिंग सिस्टम की प्रतिक्रिया का मूल्यांकन करें।  कार के गतिशीलता, हैंडलिंग और स्थिरता का आकलन करें।  ड्राइव के दौरान कार द्वारा पैदा हो रहे वाइब्रेशन और आवाज़ पर भी ध्यान दें।  

 

4.विभिन्न ड्राइविंग मोड्स का परीक्षण:

 

इलेक्ट्रिक कारों के कुछ मॉडल अलग अलग ड्राइविंग मोड्स प्रस्तुत करते हैं जैसे स्पोर्ट्स मोड, इको मोड और रिजेनरेटिव ब्रेकिंग मोड। इन सभी मोड को ड्राइविंग के दौरान प्रयोग करने से इसने प्रभाव को ड्राइविंग के अनुभव, ऊर्जा दक्षता और कार की रेंज को समझने में सरलता होती है। आपको ये समझने में आसानी होती है की इलेक्ट्रिक कार कैसे विभिन्न मोड पर संचालित होती है।  

 

5.आराम और आंतरिक सुविधाओं का मूल्यांकन करें:

 

कार के भीतर व्यक्ति सबसे पहले यही देखता है कि  उसे बैठने में कितना आराम मिल रहा है।  इसलिए सबसे पहले  चालक और यात्री के बैठने की सुविधा का आकलन करें। ये ध्यान दें की आपके सर के ऊपर तथा पैर के आगे कितना स्थान है। इसके अलावा इंफोटेनमेंट सिस्टम, क्लाइमेट कंट्रोल और कनेक्टिविटी विकल्पों जैसी आंतरिक सुविधाओं और सुविधाओं का अन्वेषण करें।

 

6.डीलर से सभी जानकारी प्राप्त करें:

 

डालर के स्टाफ से इलेक्ट्रिक कार से सम्बंधित सभी सवालों का जवाब लें। जैसे चार्जिंग क्षमता,रख रखाव,वारंटी कवरेज या अन्य कोई सवाल,  सभी का स्पष्टीकरण लें।  ये प्रक्रिया आपके लिए मूल्यवान हो सकती है तथा साथ ही आपको सही कार लेने के निर्णय को बेहतर बनाएगी।  

 

7.चार्जिंग और रेंज की जानकारी का ध्यान रखें:

 

टेस्ट ड्राइव के दौरान, इलेक्ट्रिक कार की चार्जिंग क्षमताओं और रेंज के बारे में पूछताछ करें।  चार्जिंग के सभी विकल्पों की जानकारी लें तथा एक बार चार्ज करने पर तय की जाने वाली दूरी के सम्बन्ध में भी जानकारी प्राप्त करें।  ये जानकारी इलेक्ट्रिक कार के संबंध में आपके ज्ञान में वृद्धि करेगी। साथ ही आपको अपनी पसंद के अनुरूप कार के चुनाव में सहायता करेगी। 

 

8.फॉलो अप  और आगे की रिसर्च:

 

टेस्ट ड्राइव के बाद अपने अनुभव की समीक्षा करें।  यदि कोई ऐसा सवाल है जिसकी जानकारी आपको प्राप्त नहीं हो पायी है तो डीलर से संपर्क करें या फिर ऑनलाइन माध्यमों से जानकारी प्राप्त करें। दूसरे इलेक्ट्रिक कार ओनर या इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए ऑनलाइन समर्पित किसी कम्युनिटी से फीड बैक लें।  

 

इलेक्ट्रिक कार  के लिए  चार्जिंग का विकल्प –

 

1.होम चार्जिंग समाधान :

 

 पहले यह निर्धारित करें की आपकी पार्किंग की स्थिति क्या है। वह घर के समीप है या दूर है।  क्या वहां पर होम चार्जिंग सुविधा स्थापित की जा सकती है या  नहीं।  होम चार्जिंग में आपको रातभर कार को चार्ज करने के लिए प्लग इन करना पड़ता है।  होम चार्जर अलग अलग रेंज के आते हैं जैसे लेवल-1 (120V) या  लेवल- 2 (240V) चार्जर l आप अपनी सुविधा के अनुरूप कार के मॉडल के अनुसार चार्जर ले सकते है।  

 

2.चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर : 

 

अपने पार्किंग क्षेत्र के पास बिजली के आउटलेट की उपलब्धता का मूल्यांकन करें।  इलेक्ट्रिक पैनल से निकटता के साथ साथ अन्य इंस्टालेशन से सम्बंधित आवश्यकता का मूल्यांकन करें। किसी एक्सपर्ट इलेक्ट्रीशियन से सलाह लें। 

 

3.चार्जिंग स्पीड और समय : 

 

चार्जिंग स्पीड और समय को लेकर उपलब्ध चार्जर विकल्पों को समझें। जैसे लेवल-1 चार्जिंग क्षमता  मानक होम चार्जिंग की आवश्यकता की पूर्ति करता  है परन्तु यह लेवल-2 की तुलना में इसकी गति धीमी है।  लेवल 2 चार्जिंग के लिए एक विशेष सर्किट की आवश्यकता होती है जो चार्जिंग के समय को काम कर देता है ।  अपनी आवश्यकता के अनुरूप लेवल1  या लेवल2  विकल्प का चुनाव करें।  

 

4.लागत सम्बन्धी विचार :

 

होम चार्जिंग सुविधा को खरीदने और उसको स्थापित करने में आने वाली लागत का मूयांकन करें।  साथ ही चार्जिंग में प्रयोग की जाने वाली बिजली के मूल्य पर ध्यान दें।  अब होम चार्जिंग पर आने वाली लागत की तुलना किसी नजदीकी चार्जिंग स्टेशन पर आने वाली लागत से करें।  इसके बाद निर्धारित करें की घर पर अपने इलेक्ट्रिक कार को चार्ज करना बेहतर विकल्प है या फिर बाहर चार्ज करना। 

 

5.प्रोत्साहन और छूट :

 

होम चार्जिंग सुविधा स्थापित करने के लिए सरकार या किसी कार कंपनी द्वारा दी जा रही छूट इत्यादि पर ध्यान दें।  ऐसे कोई भी योजना होम चार्जिंग की स्थापना में आने वाली लागत को कम  कर सकती है। आपके शहर  में कोई सरकारी  योजना या कंपनी का ऑफर ऐसी कोई छूट दे रहा हो इसके सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करें।  

 

6.सुविधाजनक चार्जिंग और लचीलापन :

 

घर में होम चार्जिंग सुविधा होने के कारण सार्वजनिक चार्जिंग स्टेशन पर जाने की आवश्यकता नहीं रहती है।  अगर आपके क्षेत्र में बिजली की दरें कम हों तो अपनी इलेक्ट्रिक कार को पूरी रात चार्जिंग प्लग में लगा सकते हैं।  इसके कारण आपको कहीं भी यात्रा करने के लिए फुल चार्ज कार तैयार रहती है।  

 

7.चार्जिंग प्रबंधन और निगरानी :

 

ऐसे होम चार्जर के विषय में जानकारी प्राप्त करें जो स्मार्ट फीचर एवं कनेक्टिविटी की सुविधा प्रदान करता हो।  कुछ चार्जिंग स्टेशन आपके मोबाइल या ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर ऐसी सुविधा प्रदान करते हैं  जिसके आधार पर आप चार्जिंग स्थिति, चार्जिंग समय, ऊर्जा खपत इत्यादि की निगरानी कर सकते हैं। ये युक्ति आपको चार्जिंग प्रोसेस पर अधिक नियंत्रण प्रदान करती है।   इसके आधार पर आप पूरी प्रक्रिया अपने अनुसार अनुकूलित बना सकते हैं।   

 

कार की वारंटी और मेंटेनेंस  पर ध्यान दें –

 

वारंटी एक कार ओनर को मानसिक संतुष्टि देती है।  इसीलिए कार कम्पनी द्वारा दी जा रही वारंटी महत्वपूर्ण होती है।  वारंटी के लिए किन बातों का ख्याल रखना चाहिए इसके सम्बन्ध में जानकारी निम्नलिखित है।  

 

1.निर्माता वारंटी :

 

इलेक्ट्रिक कार निर्माता द्वारा दी जा रही वारंटी की समीक्षा करें।  वारंटी की अवधि तथा वारंटी में किन किन अवयवों  को सम्मिलित किया गया है इस पर ध्यान दें।  वारंटी द्वारा कवर किए जाने वाले सामान्य घटकों में बैटरी पैक, इलेक्ट्रिक ड्राइवट्रेन और संबंधित सिस्टम शामिल हैं।  वारन्टी की टर्म और कंडीशन को समझें।

 

2.बैटरी वारंटी :

 

बैटरी पैक इलेक्ट्रिक कार का सबसे महत्वपूर्ण घटक  है। यह आमतौर पर अलग अलग वारंटी के साथ आता है।  बैटरी की वारंटी  की अवधि और शर्तों की जानकारी प्राप्त करें।  बैटरी वारंटी प्रायः एक निर्दिष्ट समय अवधि में  बैटरी की क्षमता हानि का एक निश्चित प्रतिशत कवर करती हैं।   

 

3.रख रखाव संबंधी आवश्यकताएं :

 

आप जिस इलेक्ट्रिक कार के मॉडल  को  खरीदने की सोच रहे हैं उसकी रख रखाव संबंधी आवश्यकताओं की जानकारी प्राप्त करें।  आमतौर पर इंजन पर आधारित पारम्परिक कारों की तुलना में इलेक्ट्रिक कार के रख रखाव की लागत बहुत कम आती है क्यूंकि इसमें पार्ट्स बहुत काम होते हैं।  फिर भी टायर, ब्रेक, केबिन एयर फ़िल्टर से सम्बंधित रख रखा पर ध्यान देना होगा।  कार निर्माता के रख रखाव समबन्धी निर्देशों एवं लागत का मूल्यांकन  करें।   

 

4.सर्विस एवं कस्टमर्स सपोर्ट:

 

आप जिस ब्रांड की इलेक्ट्रिक कार को खरीदने जा रहे हैं उससे संबंधित सर्विस सेंटर एवं अधिकृत तकनीशियन की उपलब्धता पर विचार करें।  सर्विस सेंटर आपके आवास के जितना अधिक निकट होगा उतना अधिक आप सर्विस सुविधा का लाभ ले पाएंगे तथा अपनी कार का नियमित रख रखाव कर पाएंगे। इसके लिए कार निर्माता द्वारा प्रदान की जा रही सर्विस की गुणवत्ता एवं कस्टमर की संतुष्टि पर विविध माध्यमों से जानकारी प्राप्त करें। 

 

5.एक्सटेंडेड वारंटी विकल्प :

 

इलेक्ट्रिक कार के एक्सटेंडेड वारंटी के विकल्प के सम्बन्ध में पूछ ताछ करें। एक्सटेंडेड वारंटी  निर्माता द्वारा दी जा रही सामान्य वारंटी के अतिरिक्त कवरेज प्रदान करती है। एक्सटेंडेंट वारंटी अधिक अवधि तक अपनी कार को लेकर एक ग्राहक को संतुष्टि प्रदान करती है। एक्सटेंडेड वारंटी की कवरेज डिटेल्स एवं आने वाली लागत का मूल्यांकन अपनी आवश्यकता के अनुरूप करें।

 

6.रखरखाव और मरम्मत की लागत:

 

  इलेक्ट्रिक कार की रख रखाव और मरम्मत की लागत एक पारम्परिक कार की तुलना में बहुत कम होती है। फिर भी संभावित लागत पर विचार करना आवश्यक  है। आप जो भी इलेक्ट्रिक कार मॉडल को खरीद रहे हो उससे सम्बंधित मेंटनेंस की जानकारी लें जैसे बैटरी से सम्बंधित सर्विस, किफायती पुर्जों एवं सर्विस की उपलब्धता इत्यादि

 

समीक्षा और अनुशंसा  पर ध्यान दें

 

एक्सपर्ट रिव्यु एक सही कार के मॉडल के चुनाव में आपके सहायक होते हैं।  एक्सपर्ट व्यू को किस प्रकार प्राप्त किया जा सकता है इसकी जानकारी निम्नलिखित है।  

1.एक्सपर्ट रिव्यु :

 

इलेक्ट्रिक कार मॉडल के सम्बन्ध में ऑटोमोटिव पब्लिकेशन या वेबसाइट पर विशेषज्ञ से परामर्श लें। एक्सपर्ट्स की सलाह से कार की रेंज, प्रदर्शन, चार्जिंग क्षमता, इंटीरियर फीचर, सेफ्टी, ड्राइविंग एक्सपीरियंस इत्यादि के विषय में विस्तृत जानकारी प्राप्त होगी।  कार के रिव्यु के सम्बन्ध में विविध श्रोतों से जानकारी प्राप्त करें।  

 

2.यूजर रिव्यु और रेटिंग:

 

इलेक्ट्रिक कार ओनर से उपयोगकर्ता  और रेटिंग देखें।  ऑनलाइन फोरम, सोशल मीडिया ग्रुप और इलेक्ट्रिक व्हीकल कम्युनिटी इलेक्ट्रिक कार के किसी भी मॉडल के सम्बन्ध में वास्तविक अनुभव की उपयोगी जानकारी प्रदान कर सकते हैं।   

 

3.तुलना और रैंकिंग :

 

एक साथ इलेक्ट्रिक कार के कई मॉडल की तुलना और रैंकिंग करने वाले पहलू पर ध्यान दें। ये तुलना कार के मॉडल के फीचर, विशेषता, कीमत इत्यादि के सम्बन्ध में उपयोगी जानकारी प्रदान करते हैं। ये जानकारी आपको मॉडल के विकल्पों को कम  करने के साथ आपके लिए आपकी आवश्यकता के अनुसार सही मॉडल चुनने में मदद करते हैं। 

 

4.ऑनलाइन कार कम्युनिटी:

 

इलेक्ट्रिक कार को समर्पित ऑनलाइन कम्युनिटी या फोरम को ज्वाइन करें। यहाँ पर इलेक्ट्रिक कार मालिकों के अनुभव की जानकारी लें तथा कार के मॉडल के संबंध में सलाह मशविरा करें। यहाँ आपको वास्तविक और उपयोगी जानकारी प्राप्त होगी। 

 

5.करीबियों से अनुशंसाएं प्राप्त करें :

 

अपने मित्रों, परिवार के सदस्यों, सहकर्मी अथवा अन्य सदस्यों से बात करें जिनके पास इलेक्ट्रिक कार हो।  इनके अनुभव आपको अधिक मूल्यवान  जानकारी दे सकते हैं।  उनसे उनके कार के अनुभव , चुनौतियों इत्यादि के विषय में बात करें। किसी विशेष मॉडल को लेकर उनके अनुशंसा  भी ले सकते हैं।   

 

6.प्रभावशाली श्रोतों पर विचार करें :

 

उद्योग विशेषज्ञों, पर्यावरण संगठनों, या सरकारी एजेंसियों जैसे प्रभावशाली स्रोतों की सिफारिशों पर ध्यान दें। विशिष्ट इलेक्ट्रिक कार मॉडल के उनके समर्थन या मान्यता आपके कार के चुनाव में मदद कर सकते हैं।  

 

7.संतुलित राय :

 

ध्यान रखें कि व्यक्तिगत राय और प्राथमिकताएं भिन्न हो सकती हैं। विभिन्न दृष्टिकोणों पर विचार करें और उन्हें अपनी प्राथमिकताओं और आवश्यकताओं पर राय  बनाएं । एक व्यक्ति के लिए क्या अच्छा काम करता है, जरूरी नहीं कि वह आपकी आवश्यकताओं के अनुरूप हो, इसलिए विशेषज्ञ समीक्षाओं, उपयोगकर्ता की राय और अपने स्वयं के निर्णय के बीच संतुलन बनाना आवश्यक है। 

 

निष्कर्ष:

अपनी पसंद की  इलेक्ट्रिक कार का चयन करने के लिए आपको  ड्राइविंग जरूरतों, बजट, रेंज आवश्यकताओं, चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर और वांछित सुविधाओं पर सावधानीपूर्वक विचार करने की आवश्यकता होती है।  इन सभी कारकों का मूल्यांकन करके, पूरी तरह से शोध करके, विभिन्न मॉडलों का परीक्षण करके, और रिव्यु  प्राप्त करके, आप एक ऐसी इलेक्ट्रिक कार का चयन कर सकते हैं जो आपकी जीवन शैली के अनुकूल हो,सुकून भरा ड्राइविंग एहसास देती हो तथा हरित वातावरण के निर्माण में सहायक हो 

1 thought on “कैसे चुने अपनी ड्रीम इलेक्ट्रिक कार: Choose Right Electric Car Complete Guide”

  1. बहुत शानदार प्रयास है
    एक जगह इतनी जानकारी सराहनीय प्रयास है
    आगे भी ऐसे ही जारी रखो

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top